Hindi 0 MIN READ 558 VIEWS May 5, 2024

चेहरे पर मलाई लगाने के नुकसान

Written By HealthKart
Medically Reviewed By Dr. Aarti Nehra


मलाई सदियों से स्किन केयर में एक आवश्यक इंग्रेडिएंट रही है। मिल्क क्रीम पोशक तत्वों से भरपूर होती है और स्किन के लिए इसके कई लाभ हैं। दूध की मलाई, विशेष रूप से, स्किन केयर के प्रति उत्साहित लोगों के बीच बहस का विषय रही है, कुछ लोग दावा करते हैं कि यह एक चमत्कारिक  इंग्रेडिएंट है, जबकि अन्य इसका उपयोग करने के खिलाफ चेतावनी देते हैं। इस लेख में, हम आपके चेहरे पर दूध की मलाई लगाने के फायदे और नुकसान के बारे में बताएंगे और साथ ही यह भी बताएँगे की चेहरे पर मलाई लगाने से क्या होता है? ताकि आप अपनी स्किन के लिए सबसे अधिक जानकारीपूर्ण निर्णय ले सकें। 

चेहरे पर मलाई लगाने के फायदे

मलाई में लैक्टोज की मात्रा के कारण त्वचा को निखारने वाले कई गुण होते हैं, जो गहराई से हाईडरेशन  और मोइस्चर प्रदान करता है, जिससे यह एक डिसायरेबल फेस क्रीम का आप्शन बन जाता है। चेहरे पर मलाई लगाने के फायदे निम्नलिखित  हैं:

  • डेड स्किन सेल्स को एक्सफोलिएट करता है: दूध की क्रीम का प्रयोग डेड स्किन सेल्स को बदलने में सहायता करता है, जो सेल्स नवीकरण को बढ़ावा देने में लैक्टिक एसिड की भूमिका से सुगम होता है। डेड सेल्स को हटाकर, यह ताज़ा त्वचा के रिफ्रेशमेंट को बढ़ावा देता है।
  • यूथफुल अपीयरेंस को बढ़ावा देता है: अक्यूमिलेटेड डेड स्किन सेल्स के परिणामस्वरूप रंग फीका पड़ सकता है और रोमकूपों में रुकावट और मुँहासे हो सकते हैं। लैक्टिक एसिड की एक्सफ़ोलीएटिंग क्रिया डेड सेल्स को प्रभावी ढंग से हटाने में मदद करती है और एक युवा चमक प्रदान करती है।
  • पोषण और हाइड्रेट: रूखी, बेजान त्वचा आपके रूप को समय से पहले बूढ़ा कर सकती है। लैक्टिक एसिड के मॉइस्चराइजिंग गुण पर्याप्त जलयोजन सुनिश्चित करते हैं, जिससे त्वचा नरम, कोमल और चमकदार हो जाती है।
  • धूप से होने वाले नुकसान से बचाव: लैक्टिक एसिड सेल्स में मेलेनिन उत्पादन को कम करके सूरज की क्षति के प्रभावों से निपटने की क्षमता प्रदर्शित करता है।
  • आंखों के नीचे की ड्राई स्किन को संभावित रूप से कम करता है: दूध की मलाई में लैक्टिक एसिड की मौजूदगी आंखों के नीचे की रूखी त्वचा को हाइड्रेट और मॉइस्चराइज करने में मदद करती है।

दूध की मलाई चेहरे पर कैसे लगाएं

दूध की मलाई त्वचा के लिए एक प्राकृतिक (नेचुरल) मॉइस्चराइज़र है। यह त्वचा को पोषण, मुलायम और चमकदार बनाने में मदद करता है। दूध की मलाई चेहरे पर लगाने के तरीके निम्नलिखित है :

  • अपने चेहरे को साफ करें: अपने चेहरे किसी भी तरह की धुल या गंदगी को हटाने के लिए के एक जेंटल क्लींजर से चेहरे को अच्छे से धोएं।
  • मिल्क क्रीम लगाएं: अपनी उंगलियों या चेहरे के ब्रश का उपयोग करके, अपने चेहरे और गर्दन पर मिल्क क्रीम की एक पतली परत लगाएं।
  • मालिश करें: अपनी उंगलियों का उपयोग करके, मलाई को अपनी त्वचा में धीरे से मालिश करें।
  • धो लें: पंद्रह बीस मिनट के बाद, गुनगुने पानी से मलाई को धो लें।
  • मॉइस्चराइज़र लगाएं: अपनी त्वचा को हाइड्रेटेड रखने के लिए मॉइस्चराइज़र लगाएं।
  • वीक में दो तीन बार लगाये: सप्ताह में दो तीन बार दूध की मलाई का उपयोग करें।
  • ओवरनाइट लगाए: यदि आपकी त्वचा रूखी है, तो आप इसे रात भर लगा सकते हैं।
  • पैच टेस्ट: यदि आपको कोई एलर्जी है, तो दूध की मलाई का उपयोग करने से पहले पैच टेस्ट करें।

चेहरे पर मलाई लगाने के नुकसान

दूध की मलाई चेहरे के लिए बहुत फायदेमंद होती है! लेकिन गलत तरीके से लगाने से ये नुकसान भी पहुंचा सकती है? चेहरे पर मलाई लगाने के नुकसान निम्नलिखित हैं :

  • दाने और पिंपल्स: जिनको पहले से ही चेहरे पर दाने या पिंपल्स की समस्या है उन्हें मलाई नहीं लगानी चाहिए। मलाई लगाने से चेहरे पर तेल ज्यादा बन सकता है जिससे धूल और मिट्टी जमकर के और ज्यादा दाने हो सकते हैं।
  • एलर्जी: कुछ लोगों को दूध की मलाई से एलर्जी हो सकती है।
  • बेरंग त्वचा: मलाई लगाकर धूप में निकलने से त्वचा नीले/गहरे रंग की हो सकती है। खासकर अगर त्वचा पहले से ही ऑयली/तैलीय है तो धूप मलाई के साथ मिलकर त्वचा को बेरंग कर सकती है।
  • डैंड्रफ: वैसे तो डैंड्रफ सिर्फ सूखे बालों में होता है, चेहरे पर भी तैल्यपन की वजह से फंगल इंफेक्शन हो सकता है जिससे डैंड्रफ जैसी समस्या हो सकती है।

क्या मलाई त्वचा को गोरा बनाती है

कुछ लोगों का मानना ​​है कि मलाई त्वचा को गोरा बना सकती है और काले घेरों को ठीक कर सकती है। हालांकि, इस दावे का समर्थन करने के लिए कोई साइंटिफिक प्रमाण नहीं है। त्वचा का कलर जेनेटिक, सन एक्सपोज़र, स्किन केयर रूटीन और समग्र स्वास्थ्य सहित विभिन्न कारकों से निर्धारित होता है। मलाई में कुछ नेचुरल तत्व होते हैं जो स्किन को मॉइस्चराइजिंग बेनिफिट प्रदान करते हैं। लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि मलाई त्वचा को गोरा बनाती है।

निष्कर्ष

चेहरे पर मलाई लगाना उचित है या नहीं, यह आपकी स्किन के टाइप, प्राथमिकताओं और व्यक्तिगत आवश्यकताओं पर निर्भर करता है। यदि आपकी त्वचा ड्राई है और आप एक नेचुरल मॉइस्चराइज़र की तलाश में हैं, तो मलाई आपकी स्किन केयर रूटीन में एक लाभकारी एडिशन हो सकती है। इसके विपरीत, यदि आपकी स्किन ऑयली या एक्ने प्रोन है, तो संभावित ब्रेकआउट से बचने के लिए लाइट , कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स का चयन करना अच्छा हो सकता है। हमें उम्मीद है कि यह लेख चेहरे पर मलाई लगाने के फायदे और नुकसान पर प्रकाश डालेगा और आपको बेहतर आप्शन चुनने में मदद करेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read these next