Diet & Nutrition 1 MIN READ 64 VIEWS September 9, 2022

ये हैं अद्भुत किशमिश खाने के फायदे

Written By HealthKart

किशमिश खाने के फायदे

किशमिश या हमारे पसंदीदा ‘किश्मिश’ अनिवार्य रूप से अंगूर या करंट हैं जो या तो स्वाभाविक रूप से या औद्योगिक रूप से सूख जाते हैं। ये मीठे व्यवहार पौष्टिक रूप से काफी घने होते हैं और इसलिए दिन के दौरान केवल मुट्ठी भर किशमिश स्वास्थ्य लाभ के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। यहाँ जाने किशमिश खाने के फायदे

किशमिश के फायदे

किशमिश के फायदे किशमिश की पोषण प्रोफ़ाइल बल्कि ईर्ष्यापूर्ण हैं क्योंकि उनमें अनिवार्य रूप से कोई वसा नहीं हैं। उनके पास कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट और यहां तक कि कुछ मात्रा में प्रोटीन की स्वस्थ खुराक हैं। किशमिश में पाए जाने वाले खनिजों में आयरन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, तांबा, जस्ता, फास्फोरस और कैल्शियम शामिल हैं। पैकेज में विटामिन बी की हेल्दी डोज के साथ-साथ थोड़ी मात्रा में फोलेट, विटामिन सी और विटामिन के भी शामिल होते हैं।

1. ऊर्जा के स्तर को बढ़ावा दें

पोषक तत्व-घने होने के नाते, मुट्ठी भर किशमिश कैलोरी की संख्या के कारण आपकी ऊर्जा भागफल को काफी बढ़ा सकती हैं। इसके अलावा चूंकि एक छोटी मात्रा चाल करती हैं, इसलिए यह आपके पेट को भारी स्नैक्स के मामले में बोझ नहीं करेगा।

2. हीमोग्लोबिन के स्तर में सुधार

किशमिश में निहित फोलेट और लोहा उन्हें कम हीमोग्लोबिन गिनती वाले लोगों के लिए आदर्श बनाते हैं। इन पोषक तत्वों के साथ, किशमिश की तांबे की सामग्री हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को और बढ़ावा देती हैं।

3. यौन स्वास्थ्य को बढ़ावा दें

किशमिश में एक कामोद्दीपक होने की काफी प्रतिष्ठा हैं। इनमें आर्जिनिन नामक प्रोटीन होता हैं जो शुक्राणु की गतिशीलता में मदद करता हैं और स्तंभन दोष का इलाज करता हैं। इसके अलावा कैलोरी गिनती आपको ऊर्जा का वह बढ़ावा प्रदान करती हैं जो बिस्तर में महत्वपूर्ण हैं।

4. हड्डियों को करें मज़बूत

किशमिश कैल्शियम से भरपूर होती हैं, जो हमारी हड्डियों का मुख्य खनिज तत्व हैं। सूक्ष्म पोषक तत्व बोरान की उपस्थिति हमारे शरीर द्वारा कैल्शियम के अवशोषण में सहायता करके आगे बढ़ने में मदद करती हैं। ये उचित कंकाल के कामकाज को बनाए रखने और ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में मदद करते हैं।

5. कोलेस्ट्रॉल कम करें

किशमिश में फाइटोकेमिकल ‘रेस्वेराट्रोल’ होता हैं जो एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-कार्सिनोजेन, एंटी-इंफ्लेमेटरी और कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले एजेंट के रूप में कार्य करता हैं। इसमें वासोडिलेटिंग गुण होते हैं जिसके आधार पर यह हमारी धमनियों में रक्तचाप को कम करता हैं।

6. गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं से छुटकारा पाएं

किशमिश में अघुलनशील आहार फाइबर का उच्च प्रतिशत हमारे शरीर की गुहा में प्रवेश करने के बाद पानी को अवशोषित करता हैं और मात्रा में वृद्धि करता हैं। यह, फिर आंत के माध्यम से भोजन की आवाजाही की सुविधा प्रदान करता हैं और कब्ज से राहत देता हैं। किशमिश पर कुतरने से उनमें मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम के कारण अम्लता से भी छुटकारा मिल सकता हैं जो पेट में पीएच संतुलन को प्रभावी ढंग से बहाल कर सकता हैं।

हर दिन मुट्ठी भर किशमिश (10-15) शामिल करने की निवेदन की जाती हैं, अधिमानतः आपके कसरत सत्रों से पहले या बाद में। वैकल्पिक रूप से, इन्हें सलाद, करी, चावल के व्यंजनों और निश्चित रूप से पोषण से भरे स्वाद के फटने के लिए मिठाई में जोड़ा जा सकता हैं।

सुबह खाली पेट किशमिश खाने के फायदे

किशमिश आप दिनभर में कबि भी खा सकते हैं लेकिन इसका सबसे सही तरह उपयोग सुभे किया जा सकता हैं। सुबह खाली पेट किशमिश खाने के फायदे देखे :-

  1. जब आप किश्मिश लेते हैं, तो यह शरीर में प्राकृतिक तरल पदार्थों के कारण सेवन की प्रक्रिया में सूज जाता हैं। यह भोजन में थोक जोड़ता हैं जो जठरांत्र संबंधी मार्ग में चल रहा हैं और स्वाभाविक रूप से आपको कब्ज से राहत देता हैं।
  2. जब आप सुबह किश्मिश खा रहे होते हैं, तो आपको यह जानकर दोगुनी खुशी हो सकती हैं कि इसमें आयरन का उच्च स्तर हैं जो एनीमिया से लड़ता हैं।
  3. किश्मिश में फाइटोन्यूट्रिएंट्स होते हैं जो आगे एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। अब ये फाइटोन्यूट्रिएंट्स हैं जो दृष्टि के लिए अच्छे हैं।

किशमिश खाने का सही तरीका

किशमिश खाने का सही तरीका उसको रात में एक कटोरा पानी में पहला देने से प्राप्त होग।  पहला हुआ किशमिश सबसे ज़्यादा फायदा देता हैं।

  1. किशमिश भिगोकर खाने के फायदे प्राकृतिक जुलाब के रूप में कार्य करते हैं, कब्ज को रोकते हैं और आपके मल त्याग को विनियमित करते हैं।
  2. किशमिश में विटामिन सी और बी जैसे सभी आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जो प्रतिरक्षा स्तर को बढ़ाने में मदद करते हैं। सर्दियों में रोजाना भीगी हुई किशमिश का सेवन करने से बैक्टीरिया और इंफेक्शन से लड़ने में मदद मिलती हैं।
  3. भिगोए हुए किशमिश में सूक्ष्म पोषक तत्व भी होते हैं जो आपकी हड्डियों के स्वास्थ्य को लाभ पहुंचा सकते हैं और ऑस्टियोपोरोसिस और आंत की शुरुआत को रोकने में मदद कर सकते हैं।
  4. प्राकृतिक शर्करा के साथ पैक, भिगोए हुए किशमिश वजन घटाने को बढ़ावा देने में मदद करते हैं – प्रत्यक्ष रूप से नहीं बल्कि कई अप्रत्यक्ष तरीकों से। पाचन को तेज करके और भूख के दर्द पर अंकुश लगाकर, भिगोए हुए किशमिश आपको अस्वास्थ्यकर स्नैक्स खाने से रोक सकते हैं जिससे अस्वास्थ्यकर वजन बढ़ सकता हैं।
  5. किशमिश सबसे अच्छे ड्राई फ्रूट्स में से एक हैं जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता हैं। भीगी हुई किशमिश, विशेष रूप से काली किशमिश खाने से शरीर को डिटॉक्सिफाई करने के लिए यकृत के कार्यों में तेजी लाने में मदद मिलती हैं, जिससे आपके शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाला जा सकता हैं।
  6. किशमिश अपने जीवाणुरोधी गुणों के लिए जानी जाती हैं। ये मुंह के बैक्टीरिया से लड़ने और मौखिक स्वच्छता बनाए रखने में मदद करते हैं, जिससे मुंह की गंध से छुटकारा पाने में मदद मिलती हैं।
  7. भिगोए हुए किशमिश में मैग्नीशियम और पोटेशियम की उच्च मात्रा पेट के एसिड को बेअसर करने और एसिडोसिस या रक्त विषाक्तता को रोकने में मदद करती हैं। एसिडोसिस से त्वचा की जटिलताएं हो सकती हैं जैसे फोड़े, पिंपल्स और सोरायसिस, सिरदर्द और कमजोरी

कन्क्लूज़न

इसमें कोई शक नहीं के आपको रात में किशमिश खाने के फायदे और सुभे उसे पहला कर खाने के फाईदो में कोई भी अंतर न दिखे। सुबह पहला हुआ किश्मसिह खाना ज़्यादा फायदा देता हैं लेकिन रात में खाना सही हैं।

Read these next