Hindi 1 MIN READ 2827 VIEWS December 15, 2022 Read in English

सिरके के स्वास्थ्य लाभ और उपयोग

Written By HealthKart
Medically Reviewed By Dr. Aarti Nehra

सिरका फरमेंट किया हुआ एक खट्टा तरल होता है जो पानी और एसिटिक एसिड से मिलकर बनता है। ‘सिरका’ शब्द फ्रांसीसी शब्द विन एगर से आया है, जिसका अर्थ है “खट्टी शराब”। सिरके को फरमेंट किये हुए कार्बोहाइड्रेट के स्रोतों से तैयार किया जाता है। सिरके का उपयोग भोजन में स्वाद बढाने के लिए प्रिज़र्वटिव या मसाले के रूप मे भी किया जाता है। इस फरमेंट किये हुए तरल से भोजन के स्वाद और सुगंध मे अम्लीयता आती है। सिरके के स्वास्थ्य लाभ अनेक होते है जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए।   

सिरका उन फलों, जौ, चावल और अन्य खाद्य पदार्थों से बनाया जाता है जिनमें चीनी की मात्रा बहुत अधिक होती है। सिरके के कई प्रकार के होते है जैसे एप्पल साइडर विनेगर,राईस वाइन विनेगर,बैलसेमिक विनेगर,फ्रुट विनेगर आदि। सिरके में अम्लीयता के स्तर एक दूसरे से भिन्न होते है।

सिरके के स्वास्थ्य लाभ क्या हैं?

नीचे सिरके के कुछ बेहतरीन लाभ दिए गए हैं जिन्हें आपको जानना चाहिए:

1. पोषाहार लाभ

सिरके के पानी में महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं जो पाचन के साथ-साथ भोजन के चयापचय और ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक होते हैं। एप्पल साइडर विनेगर कम संसाधित और फ़िल्टर्ड होता है जिससे ब्लड वेसल्स,हार्ट, मसल्स और नर्वस को सुरक्षित और स्वस्थ रखता है। इन पोषक तत्वों में बहुत सारे खनिज होते है जैसे मैग्नीशियम, कैल्शियम, सोडियम, और फास्फोरस और विटामिन ए, विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, विटामिन सी और ई आदि।

2. इंसुलिन संवेदनशीलता में मदद करता है

सिरके का प्रमुख लाभ इसके मधुमेह से लडने के लिए क्षमता होती है। मधुमेह इन्सुलिन हार्मोन की कमी / इन्सफिशन्ट प्रोडक्शन /सेंसिटिविटी में कमी के कारण होता है क्योंकि यह रक्त से शर्करा या ग्लूकोज को कोशिकाओ तक पहुंचाता है जिससे मधुमेह होने का खतरा बढ़ जाता है।

रिसर्च से पता चला है की अपने दैनिक आहार में एप्पल साइडर विनेगर या किसी अन्य प्रकार के सिरके को शामिल किया जाना चाहिए जिससे इन्सुलिन सेंसिटिविटी और ग्लूकोज स्तर को सही रखा जा सकता है। मीठे खाद्य पदार्थों में पाये जाने वाले ग्लाइसेमिक इंडेक्स को सिरके के द्वारा कम किया जाता है। ग्लाइसेमिक इंडेक्स बढ़ने पर रक्त शर्करा का स्तर भी बढ़ता है। प्रतिदिन भोजन के बाद सिरके के एक या दो चम्मच पीने से रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित किया जा सकता है और यह टाइप-2 डायबिटीज को भी रोकने में मदद करता है।

3.  वजन कम करने में मदद करता है

सिरका वजन को संतुलित बनाए रखने में मदद करता है। सिरके में भूख कम करने की क्षमता होती है जिससे वांछित वजन मिलता है। अध्ययनों से पता चला है कि वजन घटाने के लिए सिरके को दिन में दो बार पीना चाहिए। चूंकि सिरका ग्लूकोज के स्तर और रक्त में इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करता है, यह पाचन को चुस्त करता है और कम भोजन की इच्छा में योगदान देता है। आप सिरके को एक गिलास पानी में मिलाकर रोज सुबह पी सकते हैं।

4.  एसिडिटी को कम करने में मदद करता है

 सिरके में एसिटिक एसिड होता है, शरीर कि ph को सामान्य बनाए रखने के लिए  भोजन करने के बाद सिरके का सेवन करना चाहिए। सिरके से पेट के एसिड को संतुलित किया जाता है, जो अपच, एसिड रिफ्लक्स, गठिया, सिरदर्द दर्द, एलर्जी और गाउट जैसे लक्षणों को सुधारने में मदद करता है। हालांकि,किसी भी चिकित्सा अध्ययन से सिरके के सेवन से ऐसे प्रभावों की जानकारी अभी तक नहीं हुई है।

5.  खतरनाक बैक्टीरिया को मार सकता है

यह खट्टा फरमेंट किया हुआ तरल बैक्टीरिया को रोकने या मारने के लिए प्रभावी होता है। यह पैथोजन्स को भी मारता है। लोग सिरके का उपयोग परंपरागत रूप से ही, कीटाणुमुक्त करने, सफाई , मस्से का उपचार, जूँ, कान के संक्रमण और  नेल्स फंगस के इलाज के लिए करते थे। 

सिरके से त्वचा पर होने वाले मुँहासे को कम किया जा सकता है। कुछ अध्ययनों से यह पता चला है कि सिरके के अम्लीय गुण बैक्टीरिया को मार सकते हैं ।

6.  भोजन को संरक्षित करने में मदद करता है

सिरका सेहत के लिए और आपके खाने के लिए भी अच्छा होता है। एप्पल साइडर विनेगर एक अच्छे प्रीज़रवेटिव के रूप में काम करता है। बहुत लोग भोजन को लंबे समय तक खाने योग्य बनाये रखने के लिए सिरके का उपयोग प्रीज़रवेटिव के रूप में भी करते हैं। सिरका सामग्री भोजन को अम्लीय बनता है और भोजन को खराब करने वाले बैक्टीरिया को मार देता है।

7. कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है

सिरके के पानी में कोलेस्ट्रॉल कम करने की क्षमता होती है। यह ट्राइग्लिसराइड्स को कम करके अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। सिरके का सेवन आठ सप्ताह करने से आप अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर में एक बड़ा बदलाव देख सकते हैं।

8. रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार करने में मदद करता है

सिरका प्रतिरक्षा में सुधार करने में मदद करता है यह आपने महामारी के दौरान सुना होगा। सिरके मे एंटीऑक्सिडेंट होते है जो सेल डैमेज को रोकने में मदद करता है, शरीर में इम्यून सिस्टम को बढ़ाता है और प्लेटलेट को प्रिवेंट करता है।

आप किस प्रकार के सिरके का उपयोग करते हैं यह बहुत मायने रखता है। आपको कच्चा, कम प्रोसेस्ड विनेगर और उच्च गुणवत्ता वाले ताजे फलो से बने हुए सिरके को चुनना चाहिए है।

9.  आपकी त्वचा को सुरक्षित रखने में मदद करता है

सिरका त्वचा की रक्षा करके चकत्ते, एलर्जी आदि का इलाज करता है। बैलसेमिक विनेगर में एंटीऑक्सीडेंट और एसिटिक एसिड का गुण होता है जो त्वचा की रंगत को बेहतर बनाने में मदद करता हैं। सिरके का सेवन हर दिन करने से त्वचा चमकदार और साफ होती है। त्वचा पर सिरके को लगाने त्वचा के चकत्तों या शरीर के मुंहासों को दूर कर सकते है।

कन्क्लूज़न

सिरके का उपयोग विभिन्न मामलों में बेहद प्रभावी साबित हुआ है। सिरके के कई फायदेमंद उद्देश्य होते है जैसे इम्युनिटी बढ़ाने से लेकर, वजन घटाने में मदद करने तक। सिरके से मधुमेह रोग में इंसुलिन सेंसिटिविटी को भी सुधारा जाता है। इसमे विभिन्न पोषक तत्व होते है जिससे त्वचा और शरीर को स्वस्थ रख सकते है। यह फरमेंट किया हुआ तरल अनेक गुणों से भरपूर है है जो विभिन्न रंगों या स्वाद में आता है, और इसका उपयोग विभिन्न तरह से किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read these next