Diet & Nutrition 1 MIN READ 69 VIEWS November 21, 2022

चकोतरा – जानें इस फल के अद्भुत फायदे

Written By HealthKart
Medically Reviewed By Dr. Aarti Nehra

चकोतरा
चकोतरा खाने के फायदे
कन्क्लूज़न

चकोतरे [ग्रैप्फ्रूट]से तो आप में से शायद ही कोई वाकिफ ना हो। आप सब ने कभी ना कभी इसको मज़ा ले कर खाया होगा। तब तो आप जानते होंगे कि चकोतरा एक खट्टा मीठा फल है। इसमें कई आवश्यक विटामिनस और मिनरल्स होते हैं। इसलिए चकोतरा फल के फायदे भी काफी हैं। आप इस फल का जूस भी पी सकते हैं। चकोतरा एक खालिस प्राकृतिक ब्रीड है। चकोतरा को ग्रेपफ्रूट के नाम से भी जाना जाता है। ये साइट्रस परिवार की प्रजाति का फल है। यह पीले, गुलाबी, लाल और कई रंगों में उपलब्ध होते हैं। ये फल अपने गुणों के कारण बहुत अहमियत रखता है। ग्रेपफ्रूट में कम कैलोरी के साथ-साथ फाइबर भी अधिक पाया जाता है। 

चकोतरा में कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है। चकोतरा में बायोफ्लवोनोइड्स और दूसरे तत्व होने के कारण इसको खाने से कैंसर, दिल की बीमारियों और ट्यूमर का खतरा कम हो जाता है। यह मेटाबॉलिज्म बढ़ाने के साथ ही इंसुलिन रीज़िस्टन्स को भी कम करता है। यह भूख के एहसास को भी कम करता है। एक रिसर्च के अनुसार चकोतरा में विटामिन सी, फाइबर, पोटैशियम, पेक्टिन और दूसरे न्यूट्रएंट्स का अच्छा सोर्स हैं। इसमें मौजूद कुछ तत्वों में एंटीऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं जो शरीर की कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाते हैं और कोलेस्ट्रॉल को भी कम करते हैं। इसमें कैलोरीज, कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन सी, विटामिन ए, पोटैशियम, थिअमिन, फोलेट और मैग्नीशियम पाया जाता है। चकोतरा में पाए जाने वाले पोषक तत्व त्वचा को स्वस्थ रखते हैं। साथ ही ये वजन कम करने में भी सहायक हो सकते हैं। आपको चकोतरे से क्या स्वस्थ लाभ होते हैं और इसका सेवन करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ये जानना भी आपके लिए ज़रूरी है।   

चकोतरा खाने के फायदे

चकोतरा फल खाने के बहुत सारे फायदे होते हैं। ये कैलोरी में कम लेकिन न्यूट्रिएंट्स से भरपूर होता है। यह विटामिन ए और सी का भी बहुत अच्छा स्रोत है। सेहत के लिए ये फल बहुत उपयोगी है। तो चलिए जानते हैं चकोतरा फल से होने वाले फायदे।   

1. डाइबिटीज़ में फायदा 

चकोतरा फल डाइबिटीज़ में फायदा करता है। इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। इसका मतलब है कि यह पोषक तत्व प्रदान करता है और किसी की ब्लड शुगर लेवल पर नकारात्मक असर नहीं डालता। चकोतरा का सेवन डायबिटीज के मरीजों के लिए इसलिए भी फायदेमंद माना जाता है। ये ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखने में सहायक होता है। जो लोग नियमित चकोतरे का सेवन करते हैं उनमें ब्लड प्रेशर और मधुमेह जैसी समस्याएं कम होती हैं। 

2. बुखार में फायदेमंद 

चकोतरा में प्राकृतिक रूप से किनीन होता है। जो मलेरिया बुखार में बहुत लाभदायक होता है। अगर आपको बुखार है तो उससे छुटकारा पाने के लिए आपको चकोतरा का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। 

3. इम्युनिटी को करे मज़बूत 

चकोतरा में विटामिन ए और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट के गुण भी होते हैं। ये हमारी इम्यूनिटी को बढ़ाता है। इसलिए इसका सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और आपका शरीर बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने के लिए सक्षम हो जाता है। विशेष रूप से ज़्यादा उम्र और धूम्रपान करने वाले लोगों को विटामिन सी का पर्याप्त सेवन करना चाहिए। उनके लिए चकोतरा एक अच्छा विकल्प हो सकता है।  

4. गठिया में लाभ 

गठिया एक ऐसी बीमारी है जिसमें रोगी का चलना फिरना दूभर हो जाता है। गठिया की समस्या के लिए चकोतरा फल बहुत फायदेमंद माना जाता है। चकोतरा में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है जो हड्डियों को मजबूत करता है और ये गठिया रोग से छुटकारा भी दिला सकता है। 

5. कैंसर में उपयोगी 

कैंसर एक ऐसी गंभीर बीमारी है जिसमें ज़िन्दगी की उम्मीद ही खत्म हो जाती है। कैंसर की रोकथाम के लिए अगर आप चकोतरा का सेवन करते हैं तो इससे कैंसर का खतरा काफी हद तक कम हो सकता है। चकोतरा में एंटी कैंसर गुण पाए जाते हैं जो उसे बढ़ने से रोक सकते हैं। चकोतरा एंटीऑक्सिडेंट का एक भरपूर स्रोत है जैसे कि विटामिन सी। विशेषज्ञों के अनुसार ये एंटीऑक्सीडेंट उन फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद कर सकते हैं जो कैंसर को जन्म देते हैं। 

6. डाइजेस्टिव सिस्टम को करे ठीक 

डाइजेस्टिव सिस्टम को ठीक रखने के लिए चकोतरा बहुत अच्छा होता है। ग्रेपफ्रूट का कसीला स्वाद नारींजीन के कारण होता है जो एक प्रकार का फ्लैवोनॉइड है और पाचन प्रक्रिया को बेहतर बनाने में मदद करता है। ये आसानी से पेट में पच जाता है शरीर की पाचन क्रिया को ठीक रखने में मदद करता है। यह एक ताकतवर एंटीऑक्सीडेंट है जिसमें एंटीफंगल, एंटीबैक्टीरियल, एंटी-कैंसर और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। इन सभी गुणों के कारण चकोतरा कई बीमारियों से बचाने में मदद करता है। 

7. वज़न को कम करने में मददगार

चकोतरा खाने के फायदे वज़न कम करने में भी होते हैं। चकोतरा फाइबर से भरा हुआ होता है। इसको खाने से भूख भी कम लगती है। इसीलिए जो लोग वजन कम करना चाहते हैं उनके लिए चकोतरा का सेवन आवश्यक है। इसमें कैलरी की मात्रा भी कम होती है। अगर आपको वजन कम करना है तो आप अंगूर और चकोतरे का रस मिलाकर नियमित रूप से पी सकते हैं। इससे आपको काफी फायदा हो सकता है।  

8. एसिडिटी बढ़ने से रोकता है 

एसिडिटी में भी चकोतरे से फायदा उठाया जा सकता है। आपको एसिडिटी से बचने के लिए चकोतरे का रस पीना चाहिए। ये रस डाइजेशन के लिए इंटेस्टाइन में एक एल्कलाइन बनाता है। चकोतरा फल में सिट्रिक एसिड की भरपूर मात्रा होती है जिसके कारण इसमें एल्कलाइन की मात्रा बढ़ती है। यही कारण है कि चकोतरे का रस पीने से एसिडिटी कम होती है। यह फल शरीर में एसिड भी नहीं बनने देता। इसी वजह से आप इस चकोतरे का सेवन करके एसिडिटी से होने वाली गंभीर बीमारियों से बचे रह सकते हैं।   

9. ब्लड प्रेशर और हृदय स्वास्थ्य में फायदेमंद 

चकोतरा ब्लड प्रेशर और हृदय स्वास्थ्य में बहुत फायदा पहुंचा सकता है। चकोतरा में फाइबर, पोटेशियम, लाइकोपीन, विटामिन सी और कोलीन का कॉम्बिनेशन हृदय स्वास्थ्य में सहायता कर सकता है। एक रिसर्च के अनुसार पोटेशियम का सेवन अपने आहार में बढ़ाना चाहिए और खाद्य पदार्थों में नमक की मात्रा को कम करना लाभदायक होता है। इससे उच्च रक्तचाप और उसके परिणाम स्वरुप होने वाली कई गंभीर बीमारियों को रोकने में मदद मिल सकती है। चकोतरे का सेवन करने से खराब कोलेस्ट्रॉल कम होता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ सकती है। 

10. किडनी स्टोन में करता है फायदा 

चकोतरा किडनी के स्टोन में भी लाभ पहुंचाता है। किडनी स्टोन की समस्या किसी को भी हो सकती है। किडनी में मैल जमा होने की वजह से स्टोन हो जाता है। ये मैल किडनी से फिल्टर होकर यूरिन के द्वारा शरीर से बाहर निकल जाता है। कभी कभी ये गन्दगी बहुत बढ़ जाती है और किडनी में मैल जमा रह जाता है और फिर कुछ बड़े कण अंदर ही रह जाते हैं और ये पथरी का रूप लेकर ब्लॉकेज पैदा कर देते हैं। 

चकोतरे में सिट्रिक एसिड होता है जो कैल्शियम ऑक्सलेट पथरी के बनने की प्रोसेस को रोकता है और एल्कनीसिनग इफेक्ट पैदा करता है जिससे पथरी का बनना थोड़ा मुश्किल होता है। चकोतरा एक प्राकृतिक दवा है और ये कई तरह की बीमारियों से लड़ने में सक्षम होता है। ये तो सच है कि चकोतरा फ्रूट बेहद फायदेमंद होता है।   

11. त्वचा के लिए फायदेमंद 

चकोतरे के फायदे स्किन को सुन्दर बनाने में भी हैं। विटामिन सी त्वचा की मुख्य ऑक्सीलिआरी सिस्टम कोलेजन के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। विटामिन सी उम्र बढ़ने से बचाने और स्किन की देखभाल में मदद कर सकता है। 

12. नींद में सहायक 

अगर आप को नींद ना आने कि शिकायत है तो आप सोने से पहले एक गिलास चकोतरे का जूस पी सकते हैं। चकोतरा आपकी इस समस्या को भी हल कर सकता है। चकोतरा में ट्रीप्टोफन नामक एक तत्व होता है जिसके कारण नींद आती है। इसलिए आपको सोने से पहले चकोतरे का रस ज़रूर पीना चाहिए। 

कन्क्लूज़न 

चकोतरे के कमाल तो आपने देख लिए। वास्तव में चकोतरा फल कई बीमारियों में अपना बेहतरीन असर रखता है। लेकिन चकोतरा खाने से पहले कुछ बातों का ख्याल रखना बहुत ज़रूरी है। चकोतरा खाने या इसका जूस पीने से आपमें से कई लोगों को एलर्जी की शिकायत हो सकती है। अगर ऐसा हो तो चकोतरे का सेवन ना करिये। इससे आपको स्किन की बीमारी हो सकती है। अगर आप पहले से किसी एंटिबाइटिक या दूसरी दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो आपको चकोतरा खाने से पहले अपने डॉक्टर से बात जरूर करनी चाहिए। प्रेग्नेंसी में डॉक्टर के परामर्श के बिना चकोतरा बिलकुल भी नहीं खाना चाहिए। 

चकोतरे को आप सुबह के नाश्ते, दोपहर के भोजन या रात के खाने में सलाद की तरह भी खा सकते हैं। अगर आप सुबह नाश्ते में एक ताज़ा ड्रिंक पीना चाहते हैं तो इसके लिए चकोतरे का जूस बहुत बेहतर है। ये आपको दिनभर तरो-ताज़ा रख सकता है। आप चकोतरे को संतरे के जूस में भी मिलाकर पी सकते हैं। हमेशा स्वस्थ रहिये और अपना ध्यान रखिये।     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read these next