Hindi 1 MIN READ 107 VIEWS January 18, 2023

अजवाइन खाने के फायदे क्या हैं और इन्हें किस तरह उठा सकते हैं?

Written By Archana Singh
Medically Reviewed By Dr. Aarti Nehra

अजवायन एक ऐसा मसाला है जिसका इस्तेमाल ज्यादातर लोग अपने खाने में करते हैं। एसिडिटी, पेट फूलना, अपच और पेट दर्द जैसी विभिन्न पाचन समस्याओं से राहत पाने के लिए यह एक बेहतरीन उपाय है। अजवाईन के बीजो में  समृद्ध रोगाणुरोधी, कार्मिनेटिव और लीवर सुरक्षात्मक गुण होते हैं। अजवाईन का पानी गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं को दूर करने के लिए भी प्रभावी है। अजवाइन का पानी बनाने की लिए 2  चम्मच हल्के भुने हुए अजवाइन के बीज को एक गिलास गर्म पानी में भिगो दें, काढ़े को छान लें, और सेवन करें आइए अजवाइन खाने के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से चर्चा करते हैं।

सुनिश्चित करें कि जब आप गर्भावस्था के चरण में हों तो अजवायन का सेवन न करें।

अजवाइन खाने के फायदे

नीचे दी गयी सूची आपको बताएगी कि अजवाइन खाने के फायदे क्या हैं –

1. खांसी और जुकाम के इलाज में मददगार

ऐसे कई अध्ययन हुए हैं जिन्होंने सामान्य खांसी और सर्दी के इलाज में अजवाइन की प्रभावशीलता को साबित किया है। अजवाईन फेफड़ों में वायु प्रवाह को बढ़ाकर ठंड से तुरंत राहत देती है। यह बलगम को आसानी से बाहर निकालकर नाक की रुकावट/ब्लॉक  को दूर करता है।

गुड़ और अजवाइन का चूर्ण बनाएं। दिन में कम से कम 2 बार इस मिश्रण का सेवन करने से ब्रोंकाइटिस और अस्थमा जैसी समस्याओं से राहत मिल सकती है।

2. गठिया का इलाज करता है

अजवाइन में शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं। ये मांसपेशियों और जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं। इस प्रकार अजवायन ऑटोइम्यून इंफ्लेमेटरी बीमारियां जैसे रूमेटाइड आर्थराइटिस के खतरे को कम करता है।

3. वजन घटाने में मदद करता है

अजवायन का पानी वसा को बहुत जल्दी कम करने का एक आजमाया हुआ और प्राकृतिक उपाय है। रोज़ाना अजवायन का पानी पीने से मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में मदद मिलती है, कैलोरी बर्न होती है और वजन कम करने में मदद मिलती है। अपने नियमित आहार योजना/प्लान  में अजवाइन के पानी को शामिल करने से पाचन प्रक्रिया में सुधार और शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को खत्म करने में मदद मिलती है।

4. स्वस्थ त्वचा को बढ़ावा देता है

अजवाइन ऑक्सीडेटिव फ्री रेडिकल डैमेज के इलाज के लिए एक उत्कृष्ट उपाय हो सकता है क्योंकि यह उपचारात्मक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है। इसलिए, यह काले घेरे, झुर्रियाँ, धब्बे और महीन रेखाओं सहित उम्र बढ़ने के कई संकेतों को दूर करने में सहायक है। आप अजवायन का उपयोग अपने मुंहासों के निशान, फुंसियों को हल्का करने और एक चिकनी, चमकदार त्वचा पाने के लिए कर सकते हैं।

5. रक्तचाप को नियंत्रित करता है

अगर आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में नहीं है तो आपको स्ट्रोक या हार्ट अटैक जैसी बीमारियों का खतरा हो सकता है। अजवायन में थाइमोल होता है, एक प्लांट एंजाइम, जो कैल्शियम चैनल को ब्लॉक करता है। यह कैल्शियम को हृदय की रक्त वाहिकाओं में जाने से रोक सकता है जिसकी वजह से रक्त वाहिकाये रीलैक्स  और इक्स्पैन्ड  करती  हैं। इस प्रकार, यह रक्तचाप के स्तर को कम करता है।

अजवाइन खाने के नुकसान

ज्यादा मात्रा में मौखिक रूप से लेने पर अजवाइन के बीज कुछ  लोगों को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकते हैं।

कुछ लोगों को अजवायन से एलर्जी होती है और चूंकि इसमें थाइमोल होता है, इसलिए यह मतली, उल्टी और चक्कर आने जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है।

अजवायन में मौजूद बायोएक्टिव यौगिक शक्तिशाली होते हैं और इसके परिणामस्वरूप मुंह में सूजन हो सकती है। इससे मुंह में छाले और जलन हो सकती है।

भ्रूण [फीटस]के विकास पर संभावित दुष्प्रभावों के कारण गर्भवती महिलाओं को भारी अजवाइन के सेवन से दूर रहना चाहिए।

अजवायन का अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट में गैस बन सकती है, जिससे एसिडिटी या एसिड रिफ्लक्स जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

अजवाइन खाने का तरीका

जानें अजवाइन खाने के अलग अलग तरीके –

1. अजवाइन की चाय: अगर आपको गैस या अपच की समस्या है तो अजवाइन की चाय एक प्रभावी उपाय हो सकती है। चूंकि अजवायन के बीज में पानी और इलेक्ट्रोलाइट की मात्रा अधिक होती है, यह निर्जलीकरण में मदद कर सकता है। यह सूजन को भी कम कर सकता है। अजवायन की चाय का सेवन आपकी आंखों के स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है।

2. अजवाईन और अदरक पाउडर: अगर आप गैस और अपच से जुड़ी समस्याओं से जूझ रहे हैं, तो आपको अजवाइन और अदरक के पाउडर मिक्स का सेवन करना चाहिए। अजवाईन में सक्रिय एंजाइम पेट के रस [डिजेस्टिव जूस]के प्रवाह को बढ़ा सकते हैं। इससे पेट फूलना और अपच जैसी समस्याओं में फायदा होगा।

इसके अलावा, यह गैस्ट्रिक, आंतों और ग्रासनली [एसोफेगॅस] के घावों में सुधार कर सकता है। यहां तक ​​कि यह मेटाबॉलिज्म में सुधार करने और शरीर की चर्बी कम करने में भी मददगार है।

3. अजवाइन और हींग: अजवाइन और हींग दोनों ही अपच और गैस की समस्या को दूर करने के लिए प्रभावी रूप से काम करते हैं। इस मिश्रण को बनाने के लिए आप ½ छोटी चम्मच अजवाइन के बीज लेकर उसमें 3 से 4 चुटकी हींग और एक चुटकी काला नमक मिला लें। इसके बाद इस मिश्रण को चबाकर पानी के साथ निगल लें। उपयुक्त परिणामों के लिए इसे हर दिन लें।

कन्क्लूज़न

आयुर्वेदिक दवाओं और विशिष्ट भारतीय भोजन दोनों में अजवाइन का इस्तमाल होता हैं। अजवाइन के बीज में शक्तिशाली रोगाणुरोधी, एंटिफंगल और ऑक्सीडेटिव गुण होते हैं। त्वचा के उपचार के लिए मॉइस्चराइजिंग क्रीम और मलहम अजवाइन के बीज के तेल से तैयार किए जाते हैं। अजवाइन के बीज के हर्बल अर्क में जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो उन्हें पेप्टिक अल्सर को कम करने, रक्तचाप को कम करने और हृदय रोगों को रोकने के लिए प्रभावी बनाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read these next