Hair, Skin & Nails 1 MIN READ 576 VIEWS May 14, 2024

चेहरे पर भाप लेने के नुकसान 

Written By HealthKart
Medically Reviewed By Dr. Aarti Nehra


चेहरे पर भाप लेना एक लोकप्रिय स्किन केयर रेमेडी है, यह त्वचा की बनावट (टेक्स्चर), टोन और स्वरूप को बेहतर बनाने में मदद करती है। इस सरल लेकिन प्रभावी अभ्यास में छिद्रों को खोलने, त्वचा को साफ करने और ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करने के लिए चेहरे को भाप देना शामिल है। यह प्रक्रिया त्वचा की बाहरी परत को नरम करके काम करती है, जिससे छिद्रों को बंद करने वाली गंदगी, तेल और अशुद्धियों को निकालना आसान हो जाता है। हालाँकि, नई स्किन केयर तकनीकों और उपचारों के आने के बाद, इस पुरानी रेमेडी की प्रभावशीलता पर सवाल उठने लगे हैं। इस लेख  में, हम चेहरे पर भाप लेने के फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे और यह तय करने में आपकी मदद करेंगे कि यह आपके स्किन केयर रूटीन में शामिल करने लायक है या नहीं। 

चेहरे पर भाप लेने के नुकसान

भाप लेने से पहले इसके फायदे और नुकसान दोनों पर विचार करना जरूरी है। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील (सेंसिटिव) है या आपको कोई स्किन प्रॉब्लम है, तो भाप लेने से पहले स्किन केयर एक्सपर्ट से सलाह लेना अच्छा है। क्योंकि भाप लेने के फायदे तो हैं, लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हैं, जिन पर ध्यान देना जरूरी है, चेहरे पर भाप लेने के नुकसान निम्नलिखित हैं :

  • त्वचा में जलन: ज्यादा भाप लेने से त्वचा में जलन हो सकती है, खासकर संवेदन शील त्वचा वाले लोगों को। इससे लालिमा, सूजन और रोसैसिया या एक्जिमा जैसी बीमारियां बढ़ सकती हैं।
  • ड्राई स्किन की समस्या होना : लंबे समय तक भाप लेने से स्किन का नेचुरल आयल निकल सकता है, जिससे त्वचा सुखी हो सकती है और परतदार हो सकती है। यह खासकर उन लोगों के लिए होता है जिनकी स्किन ड्राई होती है।
  • मुंहासे बढ़ना: रोज भाप लेने के नुकसान में कभी-कभी मुंहासे बढ़ सकते हैं। अगर भाप लेने के बाद त्वचा को अच्छी तरह से साफ नहीं करते हैं और त्वचा की देखभाल नहीं करते हैं, तो इससे सूजन बढ़ सकती है और बैक्टीरिया फैल सकते हैं।
  • सेल्स का टूटना: भाप से निकलने वाली तीव्र गर्मी से सेल्स टूट सकते हैं, खासकर अगर लंबे समय तक भाप लेते हैं।
  • जलने का खतरा: अगर भाप का तापमान बहुत ज्यादा है या भाप के स्रोत के बहुत करीब जाते हैं, तो जलने का खतरा होता है। इससे फफोले या चोट लग सकती है।
  • लक्षणों को छिपाना: भाप लेने से छिद्र खुल जाते हैं और ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, जिससे त्वचा थोड़ी देर के लिए बेहतर दिखने लगती है। लेकिन यह त्वचा की समस्या के असली कारणों को दूर नहीं करता है। यह केवल लक्षणों को छिपाता है।

क्या भाप लेने से चेहरा गोरा होता है

नहीं भाप लेने से चेहरा गोरा नहीं होता है यह एक आम धारणा है, क्योंकि यह समझना आवश्यक है कि सिर्फ भाप आपकी त्वचा की रंगत को स्थायी रूप से नहीं बदल सकती है। भाप सिर्फ छिद्रों को खोलकर अस्थायी रूप से चमकदार त्वचा का आभास करा सकती है। 

चेहरे पर भाप लेने के बाद क्या करें 

चेहरे पर भाप लेने के बाद, इसके लाभों को अधिकतम करने और अपनी स्किन की हेल्थ और चमक को बनाए रखने के लिए स्किन केयर रूटीन का पालन करना आवश्यक है। यहां चेहरे को भाप देने के बाद उठाए जाने वाले कुछ अनुशंसित कदम निम्नलिखित  हैं:

  • स्किन पर शहद लगाएं: भाप रोमछिद्रों को खोलने और त्वचा को गहराई से साफ करने में मदद करती है, लेकिन यह कुछ नमी भी छीन सकती है। नमी को फिर से भरने और अपनी त्वचा को पोषण देने के लिए भाप लेने के बाद शहद लगाएं।
  • नारियल तेल से मालिश: नारियल तेल पोषक तत्वों से भरपूर होता है और त्वचा के लिए एक बेहतरीन मॉइस्चराइजर के रूप में काम करता है। भाप लेने के बाद अपने चेहरे पर नारियल के तेल से हल्के हाथों से मसाज करें। यह नमी को बनाए रखने, झुर्रियों और महीन रेखाओं को कम करने में मदद करता है।
  • एलोवेरा जेल: स्किन को भाप से गहराई से साफ करने के बाद एलोवेरा जेल से 3-5 मिनट तक मसाज करें। एलोवेरा में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-वायरल गुण होते हैं जो त्वचा के छिद्रों में प्रवेश करते हैं, मुंहासों, दाग-धब्बों और झुर्रियों को खत्म करने में मदद करते हैं।
  • बादाम तेल की मालिश: त्वचा की नमी बनाए रखने और त्वचा की रंगत निखारने के लिए बादाम का तेल एक और बेहतरीन विकल्प है। भाप लेने के बाद, विटामिन ई से भरपूर बादाम के तेल से अपने चेहरे की मालिश करें। 

चेहरे पर भाप लेने के फायदे

चेहरे पर भाप लेना एक नेचुरल रेमेडी है जो स्किन की हेल्थ और ग्लो को बढ़ाने में मदद कर सकती है। गर्म पानी के भाप लेने के फायदे निम्नलिखित है :

  • डीप क्लीनिंग: भाप लेने से चेहरे के छिद्र खुल जाते हैं, जिससे गंदगी, तेल और अशुद्धियां आसानी से निकल जाती हैं। इससे त्वचा की गहरी सफाई होती है।
  • बेहतर ब्लड सर्कुलेशन: भाप लेने से ब्लड वेसल्स चौड़ी हो जाती हैं, जिससे त्वचा मे रक्त का बहाव बेहतर होता है। इससे त्वचा को पोषक तत्व और ऑक्सीजन अधिक मात्रा में मिलते हैं, जिससे स्किन हेल्दी और चमकदार बनती है।
  • मुँहासो से राहत: भाप छिद्रों से मुँहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया, डेड स्किन सेल्स और अन्य अशुद्धियों को निकालने में मदद करती है। इससे मुँहासे कम होते हैं और त्वचा साफ और सवस्थ बनती है।
  • सीबम का उत्पादन कम करता है: भाप फंसे हुए सीबम को बाहर निकालने में मदद करती है, जिससे मुंहासे और ब्लैकहेड्स जैसी त्वचा संबंधी समस्याएं कम होती हैं।
  • त्वचा को हाइड्रेट करता है: भाप लेने से त्वचा का तेल उत्पादन बढ़ता है, जिससे त्वचा नमीयुक्त और मुलायम बनती है। यह शुष्क या निर्जलित त्वचा वाले लोगों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है।
  • साइनस से राहत देता है: भाप लेने से नाक बंद होने और सिरदर्द से राहत मिलती है। भाप में नीलगिरी या पेपरमिंट जैसे आवश्यक तेल मिलाकर इसे और भी प्रभावी बनाया जा सकता हैं।

निष्कर्ष

अंततः, जब सही ढंग से और संयमित तरीके से किया जाए तो चेहरे पर भाप लेना स्किन केयर के लिए फायदेमंद हो सकता है । इस लेख में बताए गए फायदे और नुकसान को समझकर, आप यह निर्णय ले सकते हैं कि चेहरे पर भाप लेना आपकी त्वचा के प्रकार के लिए सही है या नहीं। हमेशा अपनी स्किन क् जरूरतों  को ध्यान में रखे और यदि आपको कोई संदेह हो  स्किन केयर एक्सपर्ट से परामर्श लें। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read these next