हैल्थ फूड्स जिनका सेवन कभी नहीं करना चाहिए

1625 views
क्या आपको पता है कि जो भी तथाकथित पौष्टिक खाद्य पदार्थ आप प्रतिदिन खातें हैं वे वास्तव में पौष्टिक नहीं हैं? हम आपको ऐसे पौष्टिक पदार्थों के बारे में बताएंगे जिनका सेवन आपको कदापि नहीं करना चाहिए क्योंकि ये स्वास्थ्य को लाभ से ज्यादा नुकसान पहुंचाते हैं।

हम उस दौर में जी रहें हैं जहां खाना हमें जल्द से जल्द चाहिए। हमारी दैनिक डाइट की सबसे ज्यादा भरपाई प्री-पैक्ड फूड करता है। हम सब प्रोसेस्ड क्विक फूड पर निर्भर हो गए हैं, जो हमें घर में बने खानों से दूर कर रहा है। फिर भी कुछ लोग इस विषय पर बहस कर सकते हैं कि पैक्ड भोज्य पदार्थ आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं और ये स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं। इनमें एक बात जो हम पूरी तरह से अनदेखा कर देते हैं वह है पोषक मान। एक बार जब आप तथाकथित पौष्टिक खाद्य पदार्थ का पौष्टिकता के आधार पर विश्लेषण करने लगेंगे तब आपको समझ आएगा कि ये आपके स्वास्थ्य के लिए कितना नुकसानदायक है और फाइनेंस के लिए भी।     

यहां हम 8 तथाकथित हेल्दी फूड्स के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप यथाशीघ्र अपने राशन की लिस्ट से निकाल दें-

मल्टीग्रेन आटा

पैक्ड मल्टीग्रेन आटा घरेलू नाम हो गया है और ये बाज़ार में भिन्न-भिन्न प्रकार में उलब्ध है। लेकिन इनमें ज्यादातर मल्टीग्रेन नहीं होते हैं जैसा कि वे दावा करते हैं। यह हमेशा सलाह दी जाती है कि पैकेट पर लिखे तत्वों को ध्यान से पढ़ें। इसमें संपूर्ण व्हीट सबसे ऊपर प्रमुख तत्व के रूप में होना चाहिए और इसके बाद ही दूसरे तत्व होने चाहिए। अगर ऐसा नहीं है तो आप समझ लीजिए कि आपको साधारण आटे का मिश्रण दिया जा रहा है जो कि स्वास्थ्य के लिए लाभदायक नहीं है। घर पर बना मल्टीग्रेन आटा ज्यादा स्वास्थ्यकर होता है और बाजार में उपलब्ध आटों से सस्ता भी।    

मल्टी ग्रेन आटा

Image Source: www.stanford.edu

कृत्रिम स्वीटनर्स

अगर आप सोचते हैं कि रेगुलर चीनी को कृत्रिम स्वीटनर से बदल कर अपने स्वास्थ्य का ध्यान रख रहें हैं तो आप अपने जीवन में मुसिबत को गले लगा रहे हैं। कृत्रिम स्वीटनर्स स्वास्थ्य पर सबसे बड़ा खतरा है जो कृत्रिम निर्माता द्वारा फैलाया जा रहा है। वे आपकी दैनिक चीनी की जगह ऐस्पार्टेम या सुक्रैलोज़ का इस्तेमाल करते हैं। ये कृत्रिम स्वीटनर्स न्युरोलॉजिकल डैमेज, जठरांत्र और अंत: स्रावी प्रक्रिया को खराब कर देते हैं। इन पर निर्भर रहने के बजाए, आप अपने डाइट से चीनी को पूरी तरह से हटा दें।

आईस टी मिक्स

आपकी प्यास को बुझाने वाला आईस टी मिक्स पॉउडर, रेगूलर कोला के कैन की तरह अस्वास्थ्यकर होता है। ये चीनी से भरा होता है जो की उच्च फ्रक्टोज़ कॉर्न सिरप, प्रोसेस्ड शुगर और कृत्रिम फ्लेवर्स से आता है जो कि आपके शरीर के लिए ठीक नहीं है। घर पर ही आईस टी बनाना बेहतर होता है और इसका ताज़ा और अपनी पसंदीदा समर ड्रिंक का हेल्दी वर्जन का लुप्त उठाने के लिए इसे रेफ्रिजरेट करें।

मार्जरीन

बहुत लोग अपने रेगुलर बटर को इस भरोसे मार्जरीन से बदलना शुरू कर रहे हैं कि यह एक स्वास्थ्यकर विकल्प है। लेकिन एक बात जो वे नहीं जानते हैं वह यह है कि मार्जरीन हाइड्रोजनीकृत ट्रांस-फैट ऑइल से बना होता है जो स्वास्थ्य के लिए अस्वास्थ्यकर होता है। मार्जरीन के निरंतर सेवन से कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है और शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली की प्रतिक्रिया को कम कर देता है। यह तथाकथित स्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों में से एक है जिससे आपको बचना चाहिए।

मार्जरीन

Image Source: www.tudatosvasarlo.hhu

नॉन सीज़नल फल और सब्जी 

अगर आप इस बात पर चकित हैं कि कैसे नॉन सीज़नल फल और सब्जियां आश्चर्यरूप से पूरे साल ताज़ा और स्वास्थ्यकर दिखते हैं, तो अब समय आ गया है कि आप सच्चाई को जाने। नॉन सीज़नल फल और सब्जियां जेनीटिकली इंजीनियर्ड और कृत्रिमरूप से पकाए जाते है ताकि ये सीज़नल उत्पाद की तरह ताज़ा दिखें।

माईक्रोवेवेबल पॉपकॉर्न

अपनी पसंदीदा मूवी देखते हुए पॉपकॉर्न चबाना अपनी भूख को शांत करने के लिए बेहतरीन उपाय लगता है, पर क्या यह स्वास्थ्यकर है? माईक्रोवेवेबल पॉपकॉर्न जिस पर हम बहुत अधिक भरोसा करते हैं वे जेनीटिकली मॉडीफाइड कॉर्न केर्नेल्स है जो नमक और प्रिज़रवेटिव्स से प्रॉसेस्ड होते हैं। इनका स्वाद अच्छा होता है पर इनमें उच्च स्तर के सोडियम होते हैं। एक रसायण जिसे डायसेटल कहते हैं माईक्रोवेवेबल पॉपकॉर्न में पाया जाता है जोकि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। और हां यह ना भूलें की इसके स्वाद को बढ़ाने के लिए इसमें नुकसानदायक बटर और कृत्रिम सामग्री मिलाते हैं।
 
पैक्ड फ्रूट जूस

सभी पैक्ड फ्रूट जूस में शुगर और प्रिज़रवेटिव्स अधिक मात्रा में मिलाए जाते हैं जिसकी वजह से इसका स्वाद बढ़ जाता है और इसकी लाइफ भी बढ़ जाती है। ये आपकी सेहत और जेब दोनो के लिए ठीक नहीं है। इसलिए इस तरह के जूस पीने से अच्छा है आप संपूर्ण फल पर ध्यान केंद्रीत करें। फलों के फायदों की तुलना किसी भी विकल्प के साथ नहीं की जा सकती है। इस प्रकार ना सिर्फ आप जूस के स्वाद का लुफ्त उठाएंगे बल्कि इनमें होने वाले पौष्टिक तत्वों का लाभ भी लेंगे।

फ्रूट जूस

Image Source: www.skinnymom.com

फ्रोज़ेन मीट

बर्गर के लिए फ्रोज़ेन चिकेन पैटीज या कोर्मा के लिए मीट बॉल खरीदने से आपके किचन का काम भले ही कम हो जाता है पर इसकी वजह से आपकी डाइट में प्रिज़रवेटिव्स तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है। फैक्टरी में बनाये गये फ्रोज़ेन मीट और मील्स में बहुत अधिक प्रिज़रवेटिव्स, हाइड्रोजिनेटेड ऑइल्स और दूसरी कृत्रिम सामग्रियां मिलायी जाती हैं जोकि सेहत के लिए हानिकारक होते हैं। इसलिए फ्रोज़ेन मीट की जगह आप ताज़ा मीट लाएं और घर पर ही रेफ्रिजरेट कर लें, पर हॉं लंबे समय के लिए नहीं।

अब आप जान गएं होंगे कि कौन से हेल्दी फूड्स आपकी दैनिक डाइट में सबसे ज्यादा योगदान करते हैं, आशा करते हैं कि आप हेल्दी खाना खाएंगे और जब आप दैनिक राशन लाने जाएं तो बेहतर विकल्प पसंद करेंगें।

Ask your question