Miscellaneous 1 MIN READ 36 VIEWS August 5, 2022

आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय

Written By HealthKart
Medically Reviewed By Dr. Aarti Nehra

आँखों की रोशनी

आँखें शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। बहुत देर तक टीवी देखना,ऑनलाइन काम और पढ़ाई करना, घंटों मोबाइल और लैपटॉप देखने का सबसे ज्यादा असर आँखों पर पड़ता है। देर तक ऑनलाइन काम करने से स्क्रीन पर नज़र लगी रहती है और इसका असर ये होता है कि आँखों की नसें सिकुड़ जाती हैं। इससे आँखों की रोशनी तो कम होने का खतरा होता ही है साथ ही सर में दर्द भी हो जाता है। अगर आप चाहते हैं कि आपकी नजर कमजोर ना हो तो आँखों का ध्यान हमेशा रखें। इसके लिए आपको अपने खाने पीने का पूरा ख्याल रखना होगा। 

आपको पता है कि कभी कभी आँखों की ज़रा सी खराबी आँखों की रोशनी तक छीन सकती है। इसलिए इसमें थोड़ी भी ढील देना ठीक नहीं है। आपको अपनी आँखों की जांच थोड़े थोड़े समय में कराते रहना चाहिए। चाहे आपको कोई समस्या हो या ना हो। जिस तरह आप अपने शरीर का ख्याल रखते हैं ठीक उसी तरह आपको अपनी आँखों का भी ध्यान रखना चाहिए। आखिर ऑंखें भी तो आप ही की हैं। आप इन्ही से तो सब कुछ देखते हैं। 

आजकल तो छोटे छोटे बच्चों को भी नज़र का चश्मा लगाना पड़ता है। इसमें कुछ तो हेरडेटरी है लेकिन इसके लिए ज़्यादातर आज की लाइफ स्टाइल ज़िम्मेदार है। 

बहरहाल ज़्यादा घबराने की बात नहीं है। आजकल बढ़ता हुआ पल्यूशन भी काफी हद तक इसका ज़िम्मेदार है। आँखों में जलन, पानी बहना या फिर धुंधला दिखना अब तो आम बात हो गई है। अगर आप अपनी डाइट पर ध्यान दें तो आँखों की रोशनी तेज भी कर सकते हैं। 

आँख की समस्या के लक्षण 

  1. आँखों में धुंधलापन 
  2. आँखों में सूजन 
  3. ऑंखें लाल होना 
  4. फ्लोटर्स दिखना 
  5. आँखों में दर्द 
  6. आँखों में खुजली होना 

आँखों में समस्या की वजह 

  1. गंदगी और प्रदूषण के कारण आँखों में जलन और पानी बहना 
  2. कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के उपयोग से जलन और दर्द 
  3. ज़्यादा देर तक मोबाइल या लैपटॉप देखना इत्यादि 

आँखों की देखभाल के उपाय 

अपनी आँखों को स्वस्थ रखना आपकी ज़िम्मेदारी है। इनको ठीक रखने के लिए आप ये सब कर सकते हैं। 

1. स्वस्थ, संतुलित आहार 

अपनी डाइट में फल और सब्जियां शामिल करें। खासकर हरी पत्तेदार सब्जियां। ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर मछली का भी सेवन करें। इससे आपकी आँखों की परेशानियां दूर होंगी। 

2. स्वस्थ वजन रखें

किसी भी व्यक्ति का वजन अगर ज़्यादा होगा तो उससे मधुमेह होने का खतरा होता है। मधुमेह आँखों के लिए नुकसानदायक है। 

3. नियमित व्यायाम करें 

व्यायाम करने से ब्लड शुगर, हाई बी पी और हाई कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में रहता है। इनके कारण आँख की कुछ समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए आप नियमित रूप से व्यायाम करें और स्वस्थ रहें। 

4. धूप का चश्मा लगाएं 

धुप में निकलने से आपकी आँखों को नुकसान हो सकता है और मोतियाबिंद होने का खतरा बढ़ जाता है। धूप के चश्मे का उपयोग करें। 

5. अपने परिवार की मेडिकल हिस्ट्री जानिए 

कुछ आँखों की बीमारियां हेरेडिटरी होती हैं। इसलिए आपको यह पता होना चाहिए कि क्या आपके परिवार में किसी को पहले भी आँखों का कोई गंभीर रोग हो चुका है।

6. अपने रिस्क फैक्टर्स जानें 

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपको आँखों की बीमारियों के विकसित होने का अधिक खतरा होता है। आपको इन रिस्क फैक्टर्स  को जानना महत्वपूर्ण है क्योंकि आप उन रिस्क को कम कर सकते हैं।  

7. कॉन्टैक्ट लेंस का सही से उपयोग करें 

कॉन्टैक्ट लेंस लगाने या निकालने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह तरह से धोएं। लेंसेज को ठीक से साफ करें। बिना हाथ साफ किये कॉन्टैक्ट लेंस लगाने से आप की आँखों में इन्फेक्शन का खतरा हो सकता है।

8. आँखों को राहत दें 

आज अधिकतर लोग कंप्यूटर का इस्तेमाल कुछ ज़्यादा ही करते हैं। कंप्यूटर के अधिक उपयोग से आप अपनी आँखें झपकाना भूल सकते हैं और इससे आपकी आँखें थक सकती हैं। आँखों का टेंशन कम करने के लिए ये विधि 20-20-20 आजमाएं और हर 20 मिनट में 20 सेकंड के लिए अपने सामने लगभग 20 फीट दूर देखें। इससे आँखों को आराम मिलेगा। 

आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या खाएं?

आज आँखों की रोशनी कम होने के कई कारण हैं। इनमें कुछ वजह ऐसी हैं जिसमें कुछ खास नुट्रिएंट्स की बॉडी में कमी हो जाती है। ये नुट्रिएंट्स हैं जिंक, कॉपर, विटामिन सी, विटामिन ई और बीटा कैरोटीन आदि। अगर ऐसा है तो अपनी डाइट में ओमेगा -3 फैटी एसिड, ज़ेक्सैन्थिन, ल्यूटिन और बीटा कैरोटीन आदि को शामिल करें। उससे आँखों की ये समस्या दूर हो सकती है। आइये अब जानते हैं कि ऐसी कौन सी 5 चीजें हैं जिन्हें खाने से आँखों की रोशनी तेज़ हो सकती है। 

1. मछली

एक्सपर्ट्स के अनुसार आँखों की रोशनी तेज करने के लिए  मछलियों का सेवन ज़रूर करना चाहिए। इन्हें खाने से ओमेगा-3 मिलता है। इसका सबसे अच्छा स्रोत टूना, सैल्मन, ट्राउट, सार्डिन और छोटी समुद्री मछलियां हैं। यह आपके रेटिना को हेल्दी बनाए रखने में मदद करती हैं।  

दरअसल मछली आँखों के लिए सबसे अच्छा भोजन है जो ड्राई आँखों से छुटकारा दिलाने में मदद करती है। हफ्ते में आपको कुछ बार अपनी डाइट में मछली ज़रूर शामिल करनी चाहिए। मछली खाना कई अलग-अलग तरह के स्वास्थ्य लाभों से जुड़ा हुआ है।

2. नट्स 

नट्स भी आँखों की देखरेख में बहुत बढ़िया काम करते हैं। काजू, बादाम और अखरोट जैसे नट्स इनमें शामिल हैं और इनमें भी ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में होते हैं। खासकर बादाम आँखों के लिए एक ऐसा फ़ूड  इंग्रेडिएंट है जो दिमाग और आँखों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। बादाम विटामिन से भरपूर होते हैं जो आँखों के स्वस्थ टीशू को क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं। अपने आहार में विटामिन-ई को शामिल करने से आँखों को मैकुलर डिजनरेशन और मोतियाबिंद सहित विभिन्न उम्र से संबंधित आँखों की बीमारियों से बचाने में मदद मिलती है। 

नट्स में हाई लेवल का विटामिन ई भी होता है जो आँखों को किसी भी तरह की परेशानी से दूर रखता है। नट और फलियों की तरह कुछ खास बीज में भी ओमेगा -3 प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। ऐसे में जिसकी नज़र कमजोर हो रही हो तो उनको चिया सीडस, फ्लैक्स सीड या भांग के बीज का सेवन करना चाहिए। ये घरेलू नुस्खे आँखों की रोशनी ठीक रखने और उसे बढ़ाने में बहुत सहायक होते हैं।

3. हरी पत्तेदार सब्जियां 

हरी पत्तेदार सब्जियां ल्यूटिन और ज़ेक्सैन्थिन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं। खास बात ये कि इनमें विटामिन सी भी पाया जाता है। इसलिए पालक, पत्तागोभी, बथुआ आदि सब्जियों के सेवन से आँखों की रोशनी बढ़ती है। 

आंवले में भरपूर विटामिन सी होता है। विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर आंवला का सेवन आँखों की समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। विटामिन सी हेल्दी सेल्स को बढ़ाने और रेटिना सेल्स के उचित कामकाज को बनाए रखने में मदद करता है, जिससे आँखों की रोशनी में सुधार होता है। 

4. गाजर 

आँखों को स्वस्थ बनाये रखना हमारी ज़िम्मेदारी है और इसके लिए गाजर बहुत उपयोगी है। आँखों को हेल्दी बनाये रखने के लिए विटामिन ए और बीटा कैरोटीन बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। गाजर में बीटा कैरोटीन भरपूर मात्रा में होता है। इसके अलावा गाजर आँखों के इन्फेक्शन और आँखों की अन्य स्थितियों जैसे आँखों की ड्राईनेस को भी रोकने में बहुत सहायक और उपयोगी होती है। 

5. खट्टे फल 

आपको अपनी डाइट में ऐसे फल भी शामिल करने चाहियें जिनमें कुछ खटास हो। आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए खट्टे फलों का सेवन फायदेमंद होता है। इन फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है। विटामिन सी के अलावा इनमें विटामिन ई और कुछ खास एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। ये आँखों की ड्राईनेस दूर करने में मदद करते हैं। इसलिए आपको चाहिए कि आप अपनी डाइट में नींबू और संतरे जैसे फलों को शामिल करें और उनका भरपूर सेवन करें। 

इन नुट्रिएंट्स के अतिरिक्त अंडे की जर्दी में विटामिन ए, ल्यूटिन, ज़ेक्सैन्थिन और जिंक होता है, जो आँखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत ज़रूरी है।अंडा उम्र से संबंधित विजन लॉस के जोखिम को कम कर सकता है। आँखों को स्वस्थ रखने के लिए प्रचुर मात्रा में पानी पीना चाहिए। इसके अलावा  सूरजमुखी, हेज़लनट्स और मूंगफली भी आँखों के लिए उपयोगी हैं। साथ ही डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे दही और दूध भी आँखों के लिए अच्छे फ़ूड इंग्रेडिएंटस हैं । गायों के दूध से बने प्रोडक्ट्स भी आँखों के लिए फायदेमंद होते हैं। आँखों के लिए चाय भी लाभदायक है। रोज़ाना चाय पीने वालों में ग्लूकोमा होने की संभावना 74% तक कम होती है। 

कन्क्लूज़न 

आँख है तो जहान है। ये नया मुहावरा आँखों के लिए बिलकुल सटीक है। आँखों को स्वस्थ रखने के लिए हेल्दी डाइट और साथ ही घरेलू नुस्खे बहुत फायदेमंद हैं। इससे आप मोतियाबिंद, उम्र से संबंधित मैक्युलर डीजेनरेशन और आँखों से संबंधित दूसरी अलग-अलग समस्याओं से दूर रह सकते हैं। अभी तो बहुत कुछ देखना है आपको। जीवन में कोई एक रंग कम हो जाये तो दुःख होता है। फिर थोड़ी लापरवाही से अगर सारे ही रंग धुंधले या काले हो जाएँ तो ? इसलिए आँखों के साथ अपना भी ध्यान रखिये। 

Read these next